राशिफल 15 सितंबर: मकर राशि में ये दो बड़े ग्रह वक्री, आज इन राशियों को होगा फायदा-नुकसान जानिए हमारे साथ

 

आसंपर्क करें #ज्योतिष केंद्र # ग्राम दौलतपुर मेडिकल कॉलेज रोड पंडित देवस्य मिश्र ज्योतिष पीठ कार्यालय कुंडली #परामर्श और उपाय जानने हेतु।
#पंडित देवस्य मिश्र ज्योतिषाचार्य बस्ती,उत्तर प्रदेश
सम्पर्क सूत्र-9628203064 . 8948895542.7565092000
ग्रहों की स्थिति- राहु वृषभ राशि में हैं। मंगल और बुध कन्‍या राशि में हैं। सूर्य सिंह राशि में हैं। शुक्र तुला राशि में हैं। केतु वृश्चिक राशि में, चंद्रमा धनु राशि में, मकर राशि में गुरु वापस आ चुके हैं। अभी भी वक्री हैं। पहले से वहां शनि वक्री हैं। यानी मकर राशि में गुरु और शनि दोनों ही वक्री विराजमान हैं।

राशिफल-
मेष-भाग्‍य साथ देगा। भाग्‍यवश भी कुछ काम बनेगा। यात्रा का योग बनेगा। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम की स्थिति ठीक-ठाक है। व्‍यापार की स्थिति पहले से बेहतर है। शनिदेव की अराधना करते रहें।

वृषभ-जोखिम भरा समय है। कुछ नुकसान की आशंका है। बचकर पार करें। वाहन चलाते समय सावधानी बरतें। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम और व्‍यापार की स्थिति पहले से बेहतर है। गणेश जी की अराधना करते रहें। पीली वस्‍तु का दान करें।

मिथुन-रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। जीवनसाथी का सानिध्‍य मिलेगा। अविवाहितों की शादी तय हो सकती है। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करते दिख रहे हैं। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम, व्‍यापार सब कुछ बहुत बढ़िया दिख रहा है। भगवान विष्‍णु की अराधना करते रहें।

कर्क-स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। शत्रुओं पर भारी पड़ेंगे। रुका हुआ काम चल पड़ेगा। समय अच्‍छा दिख रहा है। सरकारी तंत्र से सम्‍बन्‍ध गहरा होता दिख रहा है। सूर्यदेव को जल दें।

सिंह-स्‍वास्‍थ्‍य ठीक है। प्रेम और संतान का भाव मध्‍यम चल रहा है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आपकी स्थिति पहले से बेहतर है। कुल मिलाकर मध्‍यम से उत्‍तम की ओर हैं। पीली वस्‍तु पास रखें।

कन्‍या-भूमि, भवन, वाहन की खरीदारी संभव है। भौतिक सुख-संपदा में वृद्ध‍ि हो सकती है। सरकारी तंत्र से थोड़ी सी खटास दिख रही है। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक-ठाक है। अक्रामकता पर काबू रखें। प्रेम-व्‍यापार की स्थिति अच्‍छी है। लाल वस्‍तु का दान करें।

तुला-पराक्रम रंग लाएगा। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। खर्च की अधिकता आपको परेशान कर रखी है। संतान और प्रेम की स्थिति ठीक है। लाल वस्‍तु का दान करें।

वृश्चिक-आर्थिक मामले सुलझेंगे। धन का आवक बना हुआ है। निवेश से बचें। अपनों में झगड़े-झंझट से बचें। वाणी पर नियंत्रण रखें। प्रेम और संतान मध्‍यम है। बाकी सारी स्थितियां आपकी ठीक दिख रही हैं। भगवान विष्‍णु की अराधना करें। पीली वस्‍तु पास रखें।

धनु-समाज में सराहना हो रही है आपकी। आप आगे हो रहे हैं। आपकी सराहना हो रही है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। फिर भी एक सकारात्‍मक वातावरण बना हुआ है। प्रेम और व्‍यापार अच्‍छा चल रहा है। केसर का तिलक लगाएं। बजरंग बाण का पाठ करें।

मकर-मन चिंतित बना रहेगा। व्‍यापार और स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर लेकिन कोई नुकसान नहीं होगा। बस मानसिक परेशानी आपको घेरे रहेगी। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम की स्थिति अच्‍छी, व्‍यापार की स्थिति बहुत अच्‍छी है। मां काली की अराधना करते रहें।

कुंभ-आर्थिक मामले सुलझेंगे। लेकिन कुल मिलाकर बहुत अच्‍छी स्थिति नहीं चल रही है। प्रेम में तू-तू, मैं-मैं हो सकती है। संतान की स्थिति भी बहुत अच्‍छी नहीं है। स्‍वास्‍थ्‍य भी प्रभावित दिख रहा है लेकिन फिलहाल 15 सितम्‍बर का दिन आपका बहुत अच्‍छा गुजरने वाला है। संतान की तरफ से भी ये दिन अच्‍छा जाएगा। पीली वस्‍तु का दान करें।

मीन-रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। राजनीतिक लाभ मिलेगा। स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। पैतृक संपत्ति में इजाफा होगा। प्रेम और संतान की भी अच्‍छी स्थिति है। पीली वस्‍तु पास रखें।

🚩श्री गणेशाय नम:🚩
📜 दैनिक पंचांग 📜

☀ 15 – 9 – 2021
☀ बस्ती उत्तर प्रदेश

☀ पंचांग
🔅 तिथि नवमी 11:19:30
🔅 नक्षत्र पूर्वाषाढ़ा 28:56:29
🔅 करण :
कौलव 11:19:30
तैतिल 22:27:29
🔅 पक्ष शुक्ल
🔅 योग सौभाग्य 24:52:04
🔅 वार बुधवार

☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ
🔅 सूर्योदय 05:57:59
🔅 चन्द्रोदय 14:28:00
🔅 चन्द्र राशि धनु
🔅 सूर्यास्त 18:18:04
🔅 चन्द्रास्त 24:56:59
🔅 ऋतु शरद

☀ हिन्दू मास एवं वर्ष
🔅 शक सम्वत 1943 प्लव
🔅 कलि सम्वत 5123
🔅 दिन काल 12:20:05
🔅 विक्रम सम्वत 2078
🔅 मास अमांत भाद्रपद
🔅 मास पूर्णिमांत भाद्रपद

☀ शुभ और अशुभ समय
☀ शुभ समय
🔅 अभिजित कोई नहीं
☀ अशुभ समय
🔅 दुष्टमुहूर्त 11:43:21 – 12:32:42
🔅 कंटक 16:39:24 – 17:28:44
🔅 यमघण्ट 08:26:00 – 09:15:20
🔅 राहु काल 12:08:01 – 13:40:32
🔅 कुलिक 11:43:21 – 12:32:42
🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 06:47:19 – 07:36:39
🔅 यमगण्ड 07:30:29 – 09:03:00
🔅 गुलिक काल 10:35:31 – 12:08:01
☀ दिशा शूल
🔅 दिशा शूल उत्तर

☀ चन्द्रबल और ताराबल
☀ ताराबल
🔅 अश्विनी, भरणी, कृत्तिका, रोहिणी, आर्द्रा, पुष्य, मघा, पूर्वा फाल्गुनी, उत्तरा फाल्गुनी, हस्त, स्वाति, अनुराधा, मूल, पूर्वाषाढ़ा, उत्तराषाढ़ा, श्रवण, शतभिषा, उत्तराभाद्रपद
☀ चन्द्रबल
🔅 मिथुन, कर्क, तुला, धनु, कुम्भ, मीन

पंडित देवस्य मिश्र ज्योतिषाचार्य बस्ती,उत्तर प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *